fbpx
Monday, January 30, 2023

बेटे के सिर पर खून हुआ सवार, कुल्हाड़ी से पिता के कर डाले कई टुकड़े, वजह जानकर रह जाएंगे दंग


Karnataka Murder News : 
कर्नाटक से एक दिल दहलाने वाली घटना सामने है. दिल्ली में श्रद्धा मर्डर केस की तरह ही यहां शव के कई टुकड़े किए गए हैं. बागलकोट जिले के मुद्धहोल गांव में एक 20 साल के विट्ठल ने अपने पिता परशुराम की पहले हत्या की और फिर अपना गुनाह छुपाने के लिए शव के 12 से 15 टुकड़े करके बोरवेल में छुपा दिया. 6 दिसंबर को परशुराम की हत्या की गई थी और पुलिस ने सोमवार को आरोपी विट्ठल को गिरफ्तार कर लिया. 

पुलिस के अनुसार, आरोपी विट्ठल ने बताया कि परशुराम रोजाना नशे की हालत में उसके साथ मारपीट करता था, जिसे वह काफी परेशान था. घटना वाले दिन भी परशुराम ने घर पर विट्ठल के साथ मारपीट की. इस पर विट्ठल को गुस्सा आया और उसने एक रॉड से अपने पिता पर हमला कर दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. पिता की मौत से आरोपी काफी घबरा गया और अपने गुनाह को छुपाने एक प्लान बनाया. विट्ठल अपने पिता के शव को मुद्धुल टाउन से बाहर अपनी ही जमीन में बने एक पुराने बोरवेल में छुपाना चाहता था, लेकिन शव बोरवेल में नहीं पहुंचा. इस पर आरोपी ने शव के पहले 12 से 15 टुकड़े किए और फिर उसे बोरवेल में डाल दिया. 

इसके बाद विट्ठल घर वापस नहीं आया. घरवाले परशुराम और विट्ठल को ढूंढने लगे, जब वे दोनों नहीं मिले तो उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. जब विट्ठल शनिवार को घर वापस आया तो उसने घरवालों का बताया कि उसकी और पिता परशुराम की लड़ाई हुई, जिसके बाद वह घर छोड़कर चला गया और उसे नहीं मालूम कि पिता कहां गया है. पुलिस ने सोमवार को विट्ठल को हिरासत में लिया, जिसके बाद पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया. पुलिस ने जेसीबी की मदद से बोरवेल से परशुराम की लाश के कुछ टुकड़े बरामद किए हैं, जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया. 

बागलकोट के एसपी जयप्रकाश ने कहा कि हत्या के बाद आरोपी विट्ठल ने शव को ठिकाने लगाने का फैसला किया. खेत में ही एक बेकार बोरवेल था, जिसकी चौड़ाई 6 से 8 इंच है. पहले इसने पूरी बॉडी को बोरवेल में डालने की कोशिश की, लेकिन शव फंसने लगा, जिसके बाद उसने घर में रखी एक कुल्हाड़ी से शव के 12-15 टुकड़े किए और फिर एक-एक टुकड़े को बोरवेल में डालकर उस पर मिट्टी डालता रहा. 

नोट: इस लेख में दी गई सभी जानकारी केवल जानकारी के उद्देश्य के लिए लिखी गई है।

Related Articles

नवीनतम